टीम चयन किसी को खुश करने के लिए नहीं होना चाहिए : सौरभ गांगुली

नई दिल्ली, 24 जुलाई (वेबवार्ता)। पूर्व भारतीय कप्तान सौरभ गांगुली ने बुधवार को अनुभवी अजिंक्य रहाणे और युवा शुभमन गिल को वेस्ट इंडीज दौरे के लिए एकदिवसीय टीम में नहीं चुनने पर सवाल उठाए और चयनसमिति से अपनी नीतियों में निरंतरता बनाए रखने का आग्रह किया। केदार जाधव निरंतर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए लेकिन वह टीम में हैं जबकि वेस्ट इंडीज में पांच लिस्ट ए मैचों में 218 रन बनाकर मैन ऑफ द सीरीज रहे गिल को टीम में जगह नहीं मिली।
गांगुली ने ट्विटर पर चयनकर्ताओं की खिंचाई की और उन्होंने कहा कि उनका मुख्य काम सर्वश्रेष्ठ उपलब्ध टीम का चयन करना होना चाहिए ना कि लोगों को खुश करना। उन्होंने ट्वीट किया, ‘लय और आत्मविश्वास बनाए रखने के लिए समय आ गया है कि चयनकर्ता सभी प्रारूपों में समान खिलाड़ियों का चयन करें। केवल कुछ खिलाड़ी ही हैं जो सभी फॉर्मेट में खेलते हैं। मजबूत टीमों में निरंतर अच्छा प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी होते हैं। सभी को खुश करना जरूरी नहीं है। देश के लिए सर्वश्रेष्ठ टीम का चयन करना और चयन में निरंतरता बनाए रखना महत्वपूर्ण है।’

47 वर्षीय गांगुली ने कहा, ‘टीम में कई ऐसे हैं जो सभी फॉर्मेट में खेल सकते हैं। शुभमन को टीम में नहीं देखकर हैरान हूं। रहाणे को भी वनडे टीम में होना चाहिए था।’ गिल पहले ही कैरेबियाई दौरे के लिए सीमित ओवरों की टीम में चयन नहीं होने पर अपनी नाराजगी व्यक्त कर चुके हैं।

एमएसके प्रसाद की अगुआई वाली चयन समिति ने रविवार को वेस्ट इंडीज दौरे के लिए टी20, वनडे और टेस्ट मैचों के लिये टीम का चयन किया। रविंद्र जडेजा, कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा, ऋषभ पंत और केएल राहुल को छोड़कर किसी भी अन्य भारतीय खिलाड़ी को वेस्ट इंडीज दौरे के लिए तीनों फॉर्मेट में नहीं चुना गया।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *