देश की जनता पीएम के तौर पर हेड क्लर्क चुनने के लिए वोट नहीं करेगी: मनोज सिन्हा

मेरठ। भारत सरकार में संचार राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने सोमवार को मेरठ में विपक्षी दलों के गठबंधन पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि देश की जनता पीएम के तौर पर हेड क्लर्क चुनने के लिए वोट नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि गठबंधन में कर्नाटक के सीएम बने नेता खुद कह चुके हैं कि वह कांग्रेस से गठबंधन कर महज क्लर्क बनकर रह गए हैं, इसलिए अब पीएम हेड क्लर्क के समान रह जाएगा।

पार्टी के निर्देश पर मेरठ में मीडिया से रूबरू हुए मनोज सिन्हा ने कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व और परफार्मेंस का कोई मुकाबला नहीं है। उन्होंने कहा, मोदी सरकार के कामकाज पर अगला लोकसभा चुनाव होगा। राष्ट्रीय सुरक्षा के मोर्चे पर सरकार ने बड़ा काम किया है। दुनिया को बताया कि भारत भी सर्जिकल स्ट्राइक कर सकता है। आतंक में कमी आई हैं। जम्मू-कश्मीर में हालात सुधरे हैं। विपक्ष भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं लगा सका। राफेल के मामले में विपक्ष ने सवाल उठाए पर उसमें सुप्रीम कोर्ट ने बता दिया है कि पूरी प्रक्रिया पारदर्शी थी।

सिन्हा ने कहा कि आजादी के बाद 2014 से 2019 के पांच साल ऐसे रहे हैं कि हम दुनिया की छठी बड़ी अर्थव्यवस्था बन गए हैं और जल्द दुनिया की तीन बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में होंगे। उन्होंने कहा, गरीबी हटाओ का नारा जरूर सुना था लेकिन यह काम मोदी सरकार ने किया। रेलवे, सड़क, एयरपोर्ट हर जगह सरकार ने बुनियादी ढांचे को विकसित किया है।

रेल राज्यमंत्री ने कहा कि बीजेपी चाहती है कि देश की जनंसख्या पर नियंत्रण हो, लेकिन इसके लिए वह ऐसा कुछ नहीं करेंगी जैसा इमर्जेंसी के दौर में हुआ था। उन्होंने कहा, जनसंख्या कम करने के लिए जनता को जागरूक किया जाएगा। सिन्हा ने कहा कि कुछ लोग राम मंदिर की राह में रोड़े लगा रहे हैं, सुप्रीम कोर्ट के उच्च न्यायधीश को भी लिखकर दे रहे हैं कि मंदिर मुद्दे पर सुनवाई लोकसभा चुनाव के बाद की जाए। उन्होंने कहा कि बीजेपी राम मंदिर के लिए संविधान के दायरे में हर कोशिश करेगी और जरूरत पड़ने पर अध्यादेश भी लाया जाएगा। एक सवाल के जवाब में सिन्हा ने कहा कि बनारस और रायपुर स्मार्ट सिटी बन गए हैं, बाकी जगह काम चल रहा हैं।

केंद्रीय रेल राज्य मंत्री ने कहा कि मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस जीती जरूर है पर बीजेपी हारी नहीं है। उन्होंने कहा कि तीनों ही राज्यों में लंबे समय तक सरकार चलाने के बाद भी बीजेपी की परफार्मेंस शानदार रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *